Cover

अयोध्या राम मंदिर के भूमि-पूजन के अवसर पर देशभर में हो रही पाठ-पूजा, लोगों में खुशी का माहौल

नई दिल्ली। देश और विदेश में आज अयोध्या के राम मंदिर भूमि-पूजन की चर्चा है। सभी जगह लोगों में हर्ष उल्लास देखा जा रहा है। कहीं, पूजा हो रही है तो कहीं लोग भजन गाकर अयोध्या में बनने जा रहे राम मंदिर में साथ निभा रहे हैं। देश के प्रधानमंत्री अयोध्या पहुंच गए हैं। कई 100 साल बाद राम भक्तों का सपना सच होने जा रहा है। रामनगरी अयोध्या में यह रामकथा का नया अध्याय है, 492 वर्ष तक चली संघर्ष-कथा का अपना ‘उत्तरकांड’ है। अयोध्या तो न्यारी ही छटा में है। सड़कों के किनारे पीले रंगे मकान शुभ कार्य का संदेश दे रहे हैं। कोई घर ऐसा नहीं, जिस पर भगवा पताका न लहरा रही हो। सड़कों पर रंगोली सज रही है, कतारबद्ध किए जा रहे दीपक कल्पना को उसी समय में धकेल रहे हैं कि जब चौदह वर्ष का वनवास समाप्त कर प्रभु श्रीराम अपनी अयोध्या लौटे होंगे।

खबर लिखे जाने तक अयोध्या में राम मंदिर भूमि-पूजन चल रहा है। हालांकि, 4 अगस्त से ही देशवासियों में उत्साह देखने को मिल रहा है। कई जगहों से लोग राम मंदिर भूमि-पूजन में दूर से भाग ले रहे हैं।

-अयोध्या में राम जन्म भूमि पूजन को लेकर जम्मू के रानी पार्क में दीप जलाकर खुशी मनाते डोगरा फंड के कार्यकर्ता।

-हिमाचल प्रदेश: जिला मंडी के सुकेत व्यापार मंडल सुंदरनगर द्वारा श्री राम मंदिर निर्माण कार्य के शुभारंभ मौके पर भोजपुर बाजार ने सुंदरकांड पाठ का आयोजन किया गया।

-अयोध्या में राम जन्म भूमि पूजन को लेकर रांची के चुटिया राम मंदिर में रामभक्तों ने दिए जलाए।

-हिमाचल के कुल्लू के रथ मैदान में विश्व हिन्दू परिषद के लोग राम का नाम जपते हुए।

-बिहार के भागलपुर के ईश्‍वनगर विषहरी स्‍थान मंदिर में दीप जलाते जागृत युवा समिति के कार्यकर्ता

-अयोध्या में राम जन्म भूमि पूजन को लेकर पंजाब के नाभा के दतिया डेरा में श्री रामायण जी का पाठ करते हुए भक्त।

-बिहार के गया के विष्णु पद मंदिर के प्रवेशद्वार पर शंख नाद और घंटी बजाते लोग

अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज भूमिपूजन कर चुके हैं। अयोध्या में होने वाले राम मंदिर के भूमिपूजन को लेकर शहर में बड़ी संख्या में सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है। नरेंद्र मोदी पहले प्रधानमंत्री हैं जो रामलला के दरबार में उपस्थित होंगे। बतौर प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी, राजीव गांधी और अटल बिहारी वाजपेयी का अयोध्या आना तो हुआ, पर रामलला के दर्शन का सुयोग नहीं बना। मोदी पांच अगस्त को प्रधानमंत्री रहते न केवल रामलला का दर्शन-पूजन करेंगे, बल्कि जन्मभूमि पर राम मंदिर की आधारशिला भी रखेंगे। उन्होंने प्रधानमंत्री बनने के पहले भी रामलला का दर्शन किया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy