Cover

त्यौहारों के दौरान कोरोना न फैले, अधिकारी अलर्ट रहकर जारी गाईडलाईन का पालन करवाएं

आगर मालवा। कलेक्टर श्री अवधेश शर्मा ने कहा कि आगामी एक-दो माह में आने वाले त्योंहारों के दौरान कोरोना वायरस का संक्रमण न फैले इसके लिए संबंधित अधिकारी अलर्ट रहकर कोरोना रोकथाम हेतु जारी गाईडलाईन का पालन सभी से करवाएं। घरों से बाहर रहने पर मास्क एवं सोशल डिस्टेंस का पालन सभी नागरिक करें, जिले में ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के कारण भाद्रपद महिने में जैसलमेर जिले में आयोजित होने वाला बाबा रामदेवरा मेला, इस वर्ष वहां की जिला प्रशासन द्वारा स्थगित किया गया है। जिले से श्रृद्धालुगण रामदेवरा यात्रा पर न जाएं, इसके लिए मेला स्थगित के सूचना की ग्रामीणजनों तक पहुंचाई जाए, तथा उन्हें यह भी समझाईश दी जाए कि जगह-जगह सड़कों के किनारे टेंट लगाकर भंडारा आयोजित न करें। उक्त बात कलेक्टर श्री अवधेश शर्मा ने गुरूवार को नवीन कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में समय-सीमा के लंबित पत्रों की समीक्षा बैठक के दौरान कही। कलेक्टर ने बैठक में विभागवार लम्बित पत्रों की समीक्षा करते हुए विभाग प्रमुखों को अपने विभाग अन्तर्गत लम्बित सभी पत्रों का शीघ्रता सेे निराकरण करने के निर्देश दिए।
बैठक में अपर कलेक्टर एनएस राजावत, संयुक्त कलेक्टर द्वय अवधेश कुमार शर्मा, अशफाक अली, एसडीएम महेन्द्र कवचे, डिप्टी कलेक्टर कल्याणी पांडे सहित अन्य विभाग के अधिकारी, तहसीलदार मौजूद रहे।
कलेक्टर ने सीएम हेल्पलाईन पर लम्बित शिकायतों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि हेल्पलाईन के लेवल-4 पर लम्बित शिकायतों का शीघ्र प्राथमिकता से निराकरण करवाएं। विभाग प्रमुख हेल्पलाईन पोर्टल की सतत् मानिटंरिंग करें, ताकि अपने विभाग से संबंधी शिकायत दर्ज होने पर उसका लेवल-एक पर निराकरण सुनिश्चित किया जा सके। उन्होंने कहा कि शिकायत दर्ज होने पर शिकायतकर्ता से तत्काल दूरभाष पर चर्चा कर समाधानकारी निराकरण किया जाए।
कलेक्टर ने राजस्व विभाग की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदारों के न्यायालयों में कोरोना वायरस के बचाव हेतु पुख्ता इंतजाम करते हुए शुरू किये जाए तथा आगामी 15 दिनों में अधिक से अधिक लम्बित राजस्व प्रकरणों के निराकरण किया जाए। राजस्व अधिकारी अपने न्यायालयों में पक्षकारों के प्रति व्यवहार अच्छा रखें, दोनों पक्षों की अपील सुनते हुए, प्रकरणों का निराकरण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने आरसीएमएस पोर्टल पर लम्बित राजस्व प्रकरणों का निराकरण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि राजस्व न्यायालयों में पारित आदेशों को आरसीएमएस पोर्टल पर दर्ज करना सुनिश्चित करें, ताकि आवेदकों को पारित आदेश की ऑनलाईन प्रतियां प्राप्त हो सकें। उन्होंने निर्देश दिए कि आगामी समय में आगर विधानसभा क्षेत्र में उप-चुनाव होना है, इसकों दृष्टिगत रखते हुए अपने क्षेत्र अन्तर्गत आने वाले मतदान केन्द्र, रूट चार्ट आदि की जानकारी भी रखें।
कलेक्टर ने एसडीएम, तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार को निर्देश दिए कि शासकीय विभागों द्वारा उनके उपयोगार्थ भूमि की मांग की जाए, तो बिना किसी विलम्ब के भूमि का चिन्हांकन कर उन्हें आवंटित करने की कार्यवाही करें। उन्होंने एमपीईबी डिपार्टमेंट को विभिन्न गांवों में ग्रिड स्थापित करने हेतु भूमि आवंटित करने हेतु संबंधित तहसीलदारों को निर्देशित किया। उन्होंने निर्देश दिए कि सभी राजस्व अधिकारी अपने-अपने राजस्व क्षैत्र के अन्तर्गत शासकीय भूमि पर अवैध अतिक्रमण को हटाने की कार्यवाही करें। उन्होंने तहसीलदारों को निर्देश दिए कि पटवारियों से फसलों की गिरदावरी 30 अगस्त तक करवाई जाए। उन्होंने प्राकृतिक आपदाओं के प्रकरण बनाकर आर्थिक सहायता जारी करने हेतु प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।
कलेक्टर ने खाद्य आपूर्ति विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि  राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत सम्मिलित 25 श्रेणी के परिवारों को स्थानीय निकाय द्वारा सत्यापित हितग्राहियों एवं वर्तमान में सम्मिलित परिवारों में से छूटे सदस्यों को जोड कर नवीन पात्रता पर्ची जारी की जाना है। उन्होंने खाद्य आपूर्ति विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए कि पात्र व्यक्ति जिन्हें पात्रता पर्ची जारी नहीं है, उनके नाम पात्रता पर्ची में जोड़ने की कार्यवाही करें। इस हेतु पंचायत विभाग के मैदानी अमले को सहयोग लेते हुए उक्त कार्य 15 अगस्त तक पूरा किया जाए। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि मृत डुप्लीकेट, विवाह एवं अन्य कारणों से परिवारों में नहीं रहने वाले हितग्राहियों के नाम हटाने हेतु चिन्हांकन किया है। जिनकी सूची पंचायत सचिवों को दी गई है। उक्त सूची पर दावा-आपत्ति प्राप्त होने पर उनका निराकरण करते हुए अपात्र व्यक्ति के नाम हटाने की कार्यवाही करें। इस कार्य में पटवारियों को भी लगाया जाए तथा  जो सचिव व पटवारी इस कार्य में लापरवाही करें, उसके विरूद्ध कार्यवाही प्रस्तावित की जाए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy