Cover

IPL की 8 टीमों में नहीं मिला मौका तो परेशान होकर मुंबई के गेंदबाज ने किया सुसाइड

मुंबई। मुंबई का एक क्लब क्रिकेटर सोमवार की रात अपने मलाड (पूर्व) स्थित घर पर मृत पाया गया, एक दोस्त ने कहा कि उसने खुद को मार डाला, क्योंकि वह आइपीएल की आठ टीमों में से किसी में भी जगह नहीं बना सका था। मुंबई का ये क्रिकेटर करन तिवारी है, जिसे लोकल क्रिकेट में जूनियर डेल स्टेन का नाम दिया गया था। करन का एक्शन और कद काठी साउथ अफ्रीकाई दिग्गज गेंदबाज डेल स्टेन से मिलती थी।

27 वर्षीय करन तिवारी को परिजनों ने उससे बेडरूम का दरवाजा खोलने के लिए कहा था, लेकिन उसने सीलिंग फैन से लटकर आत्म हत्या कर ली। पुलिस के मुताबिक, रात को साढ़े दस बजे गोकुलधाम कोनु कंपाउंड में करन तिवारी ने सुसाइड किया है। पुलिस ने ADR (Accidental Death Report) दर्ज कर ली है। कुरार पुलिस स्टेशन के सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर ने कहा है, “हमने एडीआर दर्ज कर ली है और मामले की जांच जारी है।”

कुरार पुलिस के सूत्रों के अनुसार, 19 सितंबर को यूएई में शुरू होने वाले आइपीएल में नहीं चुने जाने के बाद करन उदास था। सूत्र ने बताया, “करन ने उदयपुर में अपने बेस्ट फ्रेंड को फोन करके बताया कि वह आत्महत्या करने जा रहा है। आइपीएल में खेलने का मौका नहीं मिलने के बाद वह उदास था। उसके दोस्त ने करण की बहन को सूचित किया जो उसी शहर में रहती है। उसकी बहन ने उसकी मां को बताया, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। करन को अस्पताल पहुंचने से पहले ही मृत घोषित कर दिया गया था।

बीसीसीआइ के नियमों के अनुसार केवल वे खिलाड़ी जिन्होंने किसी भी आयु वर्ग में राज्य की टीम का प्रतिनिधित्व किया है, वे आइपीएल नीलामी में प्रवेश करने के लिए पात्र हैं, लेकिन करन ने कभी राज्य के लिए प्रथम श्रेणी, लिस्ट या टी20 मैच नहीं खेला था। हालांकि, करन अक्सर आइपीएल टीमों के लिए वानखेड़े में पिछले सीजन में गेंदबाजी किया करते थे, लेकिन उनको मौका इसलिए नहीं मिला, क्योंकि बीसीसीआइ के नियमों पर वे खरे नहीं उतरते थे।

करन के करीबी दोस्तों में से एक ने कहा, “वह एक राज्य टीम के लिए चुने जाने की उम्मीद कर रहा था। वह उनमें से कुछ के साथ बातचीत कर रहा था। वह एक बहुत ही होनहार क्रिकेटर था और उसने अपनी आखिरी व्हाट्सएप स्टेटस पर अपनी गेंदबाजी और बल्लेबाजी के वीडियो अपलोड किए थे। चौंकाने वाली बात ये है कि उसने ऐसा कठोर कदम उठाना चुना।” पुलिस सूत्रों ने यह भी कहा कि करन तनाव में था, क्योंकि उसके पास कोई नौकरी नहीं थी।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy