Cover

सुरेश रैना ने भी कहा क्रिकेट को अलविदा, सबको चौंकाया

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के अनुभवी बल्लेबाज सुरेश रैना ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। इंडियन प्रीमियर लीग शुरू होने से पहले चेन्नई सुपर किंग्स के दो धुरंधरों ने संन्यास की घोषणा कर सबको चौंकाया है। चोट और खराब फॉर्म से जूझ रहे रैना टीम में जगह बनाने के लिए संघर्ष कर रहे थे। धौनी के संन्यास की खबर आने के कुछ देर बाद ही उन्होंने भी एक तस्वीर शेयर कर पूर्व कप्तान को शुक्रिया कहा और उनकी साथ यात्रा करने की बात कह डाली।

एम एस धौनी के साथ लंबे समय तक खेलने वाले सुरेश रैना ने अपने पूर्व कप्तान के साथ ही इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहने का फैसला लिया। बाएं हाथ के इस धुरंधर बल्लेबाज ने साल 2005 में श्रीलंका के खिलाफ महज 19 साल की उम्र में इंटरनेशनल क्रिकेट में कदम रखा था। रैना भारत की तरफ से टेस्ट, वनडे और टी20 तीनों फॉर्मेट में इंटरनेशनल शतक बनाने वाले पहला भारतीय बल्लेबाज बने थे।

वनडे में डेब्यू करने के 5 साल बाद साल 2010 में उनको अपना पहला टेस्ट मैच खेलने मिला था। श्रीलंका के खिलाफ ही रैना ने अपना पहला टेस्ट मैच खेला था। रैना ने चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी और साथियों के साथ एक तस्वीर पोस्ट की। इस तस्वीर में अंबाती रायडु और केदार जाधव भी नजर आ रहे हैं।

रैना ने फोटो को शेयर करते हुए लिखा, “आपके साथ खेलने के साथ बहुत ही ज्यादा मजा आया माही भाई। मेरा दिल गर्व से भरा हुआ है और मैं भी आपके साथ इसी यात्रा पर चलने का चयन करता हूं। शुक्रिया भारत, जय हिन्द।” रैना की इस तस्वीर और संदेश के यह साफ हो गया कि अब वो भी इंटरनेशनल क्रिकेट में दोबारा नजर नहीं आएंगे। धौनी के साथ ही उन्होंने भी अपने संन्यास की घोषणा कर दी है।

रैना ने भारत की तरफ से 226 वनडे में खेलते हुए 5615 रन बनाए जिसमें 5 शतकीय पारी शामिल रही। 78 टी20 मुकाबलों में रैना के नाम 1605 रन हैं जिसमें एक शतकीय पारी रही। भारत की तरफ से उनको महज 18 टेस्ट मैच खेलने का मौका मिला जिसमें 768 रन रहे। टेस्ट में भी रैना के नाम एक शतकीय पारी है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy