Cover

भारतीय टीम के महान बल्लेबाज ने कहा- मैं रोहित शर्मा के जैसा ओपनर बनना चाहता था

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुनील गावस्कर भारतीय टीम के मौजूदा ओपनर रोहित शर्मा के पॉवर हिटिंग कौशल से पूरी तरह से प्रभावित हैं। रोहित शर्मा ने अपने करियर की शुरुआत मध्य क्रम में बल्लेबाजी की थी, लेकिन एक बार जब उन्हें ओपन करने के लिए प्रमोट किया गया, तो उन्होंने और अधिक ऊंचाइयों को हासिल किया। एकदिवसीय क्रिकेट में सलामी बल्लेबाज के रूप में दाएं हाथ के बल्लेबाज रोहित का औसत 58.11 का औसत है।

264 रन की पारी के साथ वे 7 हजार से ज्यादा रन बतौर ओपनर बना चुके हैं। इसके अलावा उनके 29 एकदिवसीय मैचों में से 27 शतक ओपनर के रूप में आए हैं। पिछले साल उन्हें टेस्ट क्रिकेट में भी ओपन करने के लिए प्रमोट किया गया था और उन्होंने दमदार प्रदर्शन किया। ओपनर के रूप में पांच मैचों में रोहित शर्मा ने रांची में साउथ अफ्रीका के खिलाफ 212 के हाइएस्ट स्कोर के साथ 92.66 के औसत से 556 रन बनाए। इसमें 3 शतक शामिल हैं।

पहली बार टेस्ट क्रिकेट में 10000 रन बनाने का विश्व रिकॉर्ड बनाने वाले सुनील गावस्कर ने कहा है कि वे 33 वर्षीय रोहित शर्मा की तरह एक ओपनर बल्लेबाज बनना चाहते हैं। गावस्कर ने इंडिया टुडे को दिए इंटरव्यू में कहा है, “जिस तरह से आप रोहित को वनडे क्रिकेट में बल्लेबाजी करते हुए देख रहे हैं, टेस्ट क्रिकेट पहले ओवर से ही धूम मचा रहे हैं। यही मैं खेलना चाहता था। परिस्थितियां और निश्चित रूप से मेरी क्षमता में आत्मविश्वास की कमी ने मुझे ऐसा करने की अनुमति नहीं दी।”

उन्होंने आगे कहा, “जब मैं अगली पीढ़ी को यह करते हुए देखता हूं, तो मैं पूरी तरह से चंद्रमा पर हूं, मुझे अगली पीढ़ी को देखना बहुत पसंद है, क्योंकि वहां आप प्रगति देखते हैं। आप देखते हैं कि वे अगली पीढ़ी के लिए बार को कैसे सेट कर रहे हैं।” रोहित शर्मा को हाल ही में भारत के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार के लिए चुना गया है। वे ये सम्मान पाने वाले भारत के चौथे क्रिकेटर बनेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy