Cover

छिंदवाड़ा में भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त, ओवरफ्लो होने पर माचागोरा डैम के सभी गेट खोले गए

छिंदवाड़ा: छिंदवाड़ा में बीते दिनों हुई तेज भारी बारिश के कारण पेंच नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ा है, जिसके कारण माचागोरा डैम के सभी गेट खोल दिए गए हैं। आवश्यकता पड़ने पर इनके गेटों को अधिक ऊंचाई तक खोला जा सकता है। इन गेटों के खुलने से तोतलाडोह बांध जिससे कि महाराष्ट्र के नागपुर एवं आसपास के क्षेत्र में पानी सप्लाई होता है उसके पूरे भरने की संभावना भी बढ़ गई है जो कि नागपुर शहर के लिए भी राहत की बात है।

पेंच नदी का जलस्तर बढ़ने के कारण सिंगोड़ी के नजदीक का पुल भी डूबने के कगार पर आ गया है। जिससे नरसिंहपुर सागर मार्ग बंद होने की संभावना है। सिंगोड़ी बस्ती में भी कुछ निचली बस्तियों में पानी भरने की खबर मिल रही है। छिंदवाड़ा में बीती रात से अब तक हो रही तूफानी बारिश ने किसानों के साथ आम आदमी के लिए मुसीबतों का पहाड़ खड़ा कर दिया है। फसलों को जबरदस्त नुकसान हुआ है और कई घरों में पानी भर गया है।

छिंदवाड़ा जिले के परासिया विकास खण्ड के ग्रामो के नदी नालों उफ़ान पर हैं। छिंदवाड़ा और नरसिंहपुर को जोड़ने वाला हाईवे जिले की सबसे बड़ी पेंच नदी जो कि सिंगोड़ी में है वह पुल दो फिट ऊपर से बह रही है। जिसके चलते लंबा जाम लग जाने से परिवहन प्रभावित हो गया है। लोग आवाजाही नहीं कर पा रहे हैं। जिले में स्थित केसरीनंदन हनुमान मंदिर डुबा मन्दिर के पुजारी ने वीडियो बनाकर जिला प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy