Cover

घर की माली हालत खस्ता फिर भी आरोपित करते शाहखर्ची, पुलिस तलाश रही फंडिंग का सोर्स

कानपुर। लव जिहाद के मामलों में आरोपितों की शाहखर्ची पर पुलिस की निगाह टेढ़ी हो गई हैं, घर की माली हालत खराब होने के बावजूद महंगे शौक पूरे करने वाले आरोपितों को फंडिंग का सोर्स खंगाला जा रहा है। इसके साथ ही पुलिस ने आरोपितों के घर वालों के बैंक खातों की भी जांच करने की तैयारी कर रही है।

लड़कियों को रिझाने में करते थे बेशुमार खर्च

पुलिस की जांच में सामने आया है कि अबतक जितने भी आरोपित प्रकाश में आए हैं, सभी की आर्थिक हालत बहुत खराब है, मगर दूसरी तरफ सच्चाई यह भी है कि लड़कियों को बरगलाने के लिए आरोपितों ने हीरोपंती का सहारा लिया था। आरोपित देखने में टिप टॉप लगते थे और लड़कियों का ध्यान आकर्षित करने के लिए बेशुमार पैसा खर्च करते थे। अब पुलिस उनके आर्थिक स्रोत भी तलाश रही है।

पिता फर्नीचर कारोबारी और फैसल ने दी लाखों की फीस

लव जिहाद के जो मामले जोर पकड़ रहे हैं, उनमें सबसे प्रमुख मामला शालिनी यादव का है। शालिनी के भाई विकास बताते हैं कि आरोपित फैसल के पिता फर्नीचर कारोबारी के यहां काम करते हैं। फैसल खुद बेरोजगार है। सबसे बड़ा सवाल यही है कि आखिर फैसल के पास इतना पैसा कहां से आया, कि वह कानपुर से दिल्ली और दिल्ली से प्रयागराज का सफर बिना किसी आर्थिक संकट के पूरा कर गया। दिल्ली हाईकोर्ट और यूपी हाईकोर्ट में अपने वकील खड़े किए और लाखों रुपये फीस दी। उन्होंने कहा कि यह किसी आम आदमी के बस की बात नहीं है। जाहिर है कोई व्यक्ति या संगठन फैसल को आर्थिक मदद दे रहा है।

पनकी के आरोपितों की आर्थिक हालात खराब

यही स्थिति पनकी से जुड़े मामले में भी सामने आई है। दोनों आरोपित मोहसिन खान और आमिर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। सूत्रों ने बताया कि गिरफ्तारी के बाद दोनों को जेल से बाहर लाने के लिए एक बड़ा तंत्र काम कर रहा है। पीडि़त पिता के मुताबिक पिछले दिनों जब बेटियों को अदालत ले गए तो दूसरी ओर 100 से अधिक युवा कचहरी के आसपास मौजूद थे।

इसका मतलब साफ है कि मोहसिन और आमिर को भी मदद मिल रही है। गोविंद नगर में पिछले दिनों लव जिहाद का शिकार हुई युवती जिस युवक से प्रेम करती थी, वह तो ट्रक ड्राइवर है। निकाह के चार दिन बाद वह कहीं गायब हो गया। बुधवार को चकेरी के मामले में भी पता लगा है कि आरोपित युवक बेहद गरीब परिवार से है। पुलिस इन युवकों को विधिक और आर्थिक सहायता मुहैया कराने वालों का भी पता लगा रही है।

किशोरी का कोर्ट में बयान दर्ज

चकेरी के पटेल नगर में किशोरी का जबरन धर्म परिवर्तन कराकर निकाह करने के मामले में पुलिस ने शुक्रवार को महिला मजिस्ट्रेटी के सामने पीडि़ता का बयान दर्ज कराया। इस मामले में पुलिस आरोपित को जेल भेज चुकी है। पटेल नगर निवासी 16 वर्षीय दलित किशोरी को इलाके का आरोपित आदिल खान बहला फुसलाकर अपने साथ ले गया था।

जिसके बाद आरोपित ने जबरन धर्म परिवर्तन कराकर फर्जी दस्तावेज लगाकर निकाह कर लिया था। सोमवार को किशोरी ने किसी तरह चंगुल से बचने के बाद स्वजन को आपबीती बताई तो उसके भाई ने बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के साथ बुधवार को थाने पहुंचकर मुकदमा दर्ज कराया। थाना प्रभारी रवि श्रीवास्तव ने बताया कि पीडि़ता के मजिस्ट्रेटी बयान दर्ज कराए गए हैं। वहीं मामले में आगे कार्रवाई की जा रही है।

आरोपितों के मददगारों से पूछताछ जारी

लव जिहाद के मामलों में आरोपितों के मददगारों की तलाश में पुलिस ने शुक्रवार को भी चार लोगों से पूछताछ की। यह सभी नौबस्ता के एक मामले में आरोपितों के परिचित हैं। हालांकि एक अन्य मामले में जांच के बाद पुलिस को कुछ नया नहीं मिला है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy