Cover

सीएम केजरीवाल ने डेंगू के खिलाफ ’10 हफ्ते, दस बजे, 10 मिनट’ अभियान को किया शुरू

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार पिछले वर्ष की तरह डेंगू के खिलाफ 10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट, हर रविवार डेंगू पर वार महा अभियान को शुरू कर दिया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सुबह 10 बजे अपने आवास पर साफ-सफाई करके इस अभियान की शुरुआत की। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस अभियान के जरिए हम दिल्ली को डेंगू और चिकनगुनिया से हमेशा के लिए निजात दिलाना चाहते हैं।

सीएम केजरीवाल ने अपने आवास से डेंगू के खिलाफ अभियान की शुरुआत करते हुए लोगों से स्वयं और अपने दस जानकारों को इस अभियान से जोड़ने की अपील की। उन्होंने कहा कि यह डेंगू के मच्छरों का प्रजनन काल है, इसलिए अपने घरों में पानी जमा करके न रखें।

बता दें कि दिल्ली सरकार के सभी मंत्री, विधायक और अधिकारी भी हर रविवार को अपने घर में अभियान चलाएंगे। सीएम केजरीवाल ने दिल्ली वासियों से सुबह 10 बजे, 10 मिनट, 10 हफ्ते के अभियान में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेने की अपील की है, ताकि दिल्ली को डेंगू मुक्त बनाया जा सके।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस रविवार यानी 6 सितंबर से हम दिल्ली में डेंगू के खिलाफ अगले 10 हफ्ते तक चल चलने वाली लड़ाई शुरू कर रहे हैं। हर रविवार, सुबह 10 बजे, 10 मिनट के लिए हमें अपने-अपने घर पर यह देखना है कि कहीं साफ पानी इकट्ठा तो नहीं है। जैसे गमला, कूलर, फूलदान इन सभी की अच्छे से जांच करनी है। अगर कहीं पर भी पानी जमा हो तो उसे उड़ेल दें या तेल या पेट्रोल डाल दें। हमें हर हाल में मच्छरों के पनपने से रोकना है। अगले दस हफ्तों तक हमें ऐसा ही करना है और डेंगू को हराना है।

केजरीवाल ने कहा कि 2015 में जब दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार बनी थी, उस दौरान दिल्ली में डेंगू के 15867 केस आए थे और करीब 60 लोगों की मौत हुई थी। हमने 2019 में 10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट का अभियान चलाया और परिणाम स्वरूप सिर्फ 2036 केस ही आए और मात्र 2 लोगों की मौत हुई। वहीं स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि पिछले साल जब हमने यह अभियान शुरू किया था, तब हम दिल्लीवासियों और सरकारों के सामूहिक प्रयासों से डेंगू को हराने में सफल रहे थे। डेंगू के कारण मृत्यु दर नगण्य थी।

इस साल भी हम जीतेंगे। हर साल डेंगू के सबसे ज्यादा मामले 1 सितंबर से 15 नवंबर के बीच आते हैं। इसलिए दिल्ली वालों को 10 हफ्ते, 10 मिनट देने हैं। जैन ने कहा कि एक तरह से 100 मिनट मांग रहे हैं। आपके 100 मिनट का मतलब पौने दो घंटे हैं। अपनी दिल्ली को डेंगू और चिकनगुनिया से बचाने के लिए पौने दो घंटे तो हर आदमी दे ही सकता है।

इस महा अभियान को इस तरह बनाया जाएगा सफल

  • रविवार को 10 बजे, 10 मिनट, 10 हफ्ते अभियान की शुरुआत की जाएगी।- दिल्ली में रहने वाले निवासी अपने दस दोस्तों व परिचितों को कॉल करेंगे और उन्हें इस अभियान में शामिल होने के लिए प्रेरित करेंगे।
  • दिल्ली सरकार शहर की आरडब्ल्यूए को भी डेंगू के खिलाफ चलाए जाने वाले इस अभियान में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेने के लिए आमंत्रित करेगी।
  • सेलिब्रिटी और सोशल मीडिया पर प्रभाव रखने वाले लोग भी इस अभियान में हिस्सा लेंगे। वे अपने अनुभवों को रिकॉर्ड करके विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर साझा करेंगे।
  • दिल्ली सरकार के स्कूलों में पढ़ने वाले सभी बच्चों को इस अभियान में हिस्सा लेने के लिए उन्हें होमवर्क दिया जाएगा। इसके साथ ही वो फोन के जरिए अपने दोस्तों को भी इस अभियान में शामिल होने के लिए प्रेरित करेंगे।
  • पड़ोसी भी अपने आसपास रहने वाले लोगों को इस अभियान की विशेषता बताते हुए उन्हें इसमें बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेने के लिए कहेंगे। – अपने और आसपास के ऑफिस में काम करने वाले लोगों को अभियान में शामिल होकर इसे सफल बनाने के लिए कहेंगे।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy