Cover

पूर्व DGP गुप्‍तेश्‍वर पांडे्य शाम छह बजे कर सकते है बड़ी घोषणा, थोड़ी ही देर में सोशल मीडिया पर प्रशंसकों से होंगे रूबरू

पटना।   बिहार के डीजीपी (DGP) के पद पर रहते हुए और अब पद से इस्‍तीफा  देने के  बाद भी गुप्‍तेश्‍वर पांडे्य(Gupteshwar Pandey ) लगातार सुर्खियों में बने हुए  हैं। गत मंगलवार को उनके वीअारएस (Voluntary Retirement) लेकर चुनाव लड़ने की खबर आते ही सोशल मीडिया  (social Media) पर उनपर लाइक (likes) और कमेंट्स (Comments) की भरमार है। उनके चुनाव लड़ने और ना लड़ने को लेकर भी बहस छिड़ी हुई है। इसी बीच अब से थोड़ी ही देर में अपने  ट्वीटर हैंडल पर आज वे कोई बड़ा अनाउंसमेंट (announcement)  करनेवाले हैं। अनाउंसमेंट से पहले वे अपने प्रशंसकों से मुखातिब होंगे। उन्‍होंने  आज (23 September) राष्‍ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की कविता ‘ मानव जब जोर लगाता है , पत्‍थर पानी बन जाता है।’ को शेयर करते हुए  शाम छह बजे लाइव आने की घोषणा की है। बता दें कि आज राष्‍ट्रकवि की जयंती भी है। उन्‍होंने अपने प्रशंसकों से ‘मेरी जुबानी’ के तहत शाम छह बजे रूबरू होने के वादा किया है। वे  ट्विटर, फेसबुक और यू-ट्सूब के माध्यम से लाइव होंगे। माना जा रहा है कि वे स्‍वयं अपने प्रशंसकाें से मुखातिब होकर अपने भविष्‍य की योजनाओं के बारे में कोई बड़ी घोषणा कर सकते हैं।

 दीपक ठाकुर ने गाया डीजीपी हैं , बिहार के रॉबिनहुड

इसके पहले मंगलवार को गुप्‍तेश्‍वर पांडे्य ने डीजीपी के पद से वीआरएस लिया और आज बुधवार को उनका एक म्‍यूजिक एलबम रिलीज हुआ है । इसमें उन्‍हें बिहार का रॉबिनहुड कहा गया है। वे खुद बतौर हीरो दबंग छवि में नजर आ रहे हैं।  गाने के बोले है- डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय हैं रॉबिनहुड बिहार के। बिग बॉस के पूर्व प्रतिभागी दीपक ठाकुर ने यह गाना गाया है। दीपक ठाकुर भी इस गाने में नज़र आ रहे हैं। दीपक इससे पहले बिग बॉस में नज़र आ चुके हैं। इसके अलावा मुक्काबाज़ और गैंग ऑफ़ वासेपुर जैसे फ़िल्मों में गाना भी गा चुके हैं। दीपक ठाकुर भी बिहार के रहने वाले हैं। इस वक्त वह बाढ़ पीड़ितों की मदद को लेकर काफी चर्चा में हैं।

 संजय राउत ने कसा  तंज

उधर, महाराष्‍ट्र में शिव सेना के प्रवक्‍ता के संजय राउत ने फिर गुप्‍तेश्‍वर पांडे्य पर तंज कसा है। कहा है कि जो पार्टी उन्‍हें टिकट देगी, उस पार्टी का जनता विश्‍वास नहीं करेगी। अब यह साफ हो गया है कि महाराष्‍ट्र पर तांडव उनका राजकीय एजेंडा था। सुशांत सिंह राजपूत केस में महाराष्‍ट्र पुलिस पर उनकी बयानबाजी  राजनीति से प्रेरित  थी।  अब उन्‍हें  इस  काम का इनाम  मिलने जा रहा  है।

नए बिहारी बाबू

उधर, वरिष्‍ठ पत्रकार राजदीप सरदेसार्इ ने पूर्व डीजीपी के म्‍यूजिक एलबम की तारीफ करते हुए कहा है कि उनके मूव  शॉट गन की  याद  दिला रहे । ये हैं नए बिहारी बाबू।

 सोशल मीडिया पर छाए रहते  

 आपको बता दें कि गुप्तेश्वर पांडेय लगातार सोशल मीडिया में काफी सक्रिय रहते हैं। 1987 बैच के इस आईपीएस अधिरकारी के फेसबुक पर 7.7 लाख फॉलोवर्स हैं। वहीं, 2.5 लाख फॉलोवर्स ट्विटर पर भी हैं।

सुशांत मामले को ले राष्‍ट्रीय चर्चा में

गुप्तेश्वर पांडेय 31 जनवरी 2019 को बिहार के डीजीपी बने थे। बतौर डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय का कार्यकाल 28 फरवरी 2021 तक था। मुख्य रूप से बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की माैत के मामले (Sushant Singh Rajput Death Case) में वे राष्‍ट्रीय स्‍तर पर चर्चा में आए।

चुनाव लड़ने वाले बिहार के पहले अधिकारी होंगे

बता दें कि उन्‍होंने मंगलवार को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली। वे 1987 बैच के भारतीय पुलिस सेवा (Indian Police Service) के अधिकारी थे। गुप्तेश्वर पांडेय डीजीपी के पद से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेकर चुनाव लड़ने वाले बिहार के पहले अधिकारी होंगे। डीजीपी रहते हुए उन्‍हें मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) का करीबी अधिकारी माना जाता था।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy