Cover

इंदौर में संबल योजना के कार्यक्रम में बिना मास्क लगाए शामिल हुए गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, पूछने पर दिया यह जवाब

इंदौर। मुख्यमंत्री जनकल्याण संबल योजना के अंतर्गत बुधवार को रवींद्र नाट्यगृह में हुए कार्यक्रम में 35 हितग्राहियों को अनुग्रह राशि के प्रमाण पत्र दिए गए। डेढ़ घंटे के इस कार्यक्रम में गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा बिना मास्क लगाए शामिल हुए। इस दौरान उनकी मौजूदगी में पांच हितग्राहियों को प्रमाण पत्र दिए गए। इसके साथ ही मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के ऑनलाइन संबोधन के दौरान मंच से नीचे दर्शक दीर्घा में राजनेता शारीरिक दूरी भूल गए। कार्यक्रम के अंत में जब गृहमंत्री से मास्क नहीं पहनने को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम में तो क्या, मैं किसी भी कार्यक्रम में मास्क नहीं पहनता हूं।

गृहमंत्री ने मंच के नीचे जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट सहित शहर के विधायकों से चर्चा की। उनके आसपास विधायक रमेश मेंदोला, पूर्व विधायक सुदर्शन गुप्ता, पूर्व आइडीए अध्यक्ष मधु वर्मा बैठे थे। संबल योजना के अंतर्गत इंदौर के तीन हितग्राहियों को दुर्घटना में मृत्यु होने पर चार-चार लाख की सहायता राशि और 32 हितग्राहियों को सामान्य मृत्यु होने पर दो-दो लाख रुपये अनुग्रह सहायता राशि दी गई। योजना में मुख्यमंत्री ने प्रदेशभर के 3700 हितग्राहियों को 80 करोड़ की राशि सीधे बैंक खाते में सिंगल क्लिक के जरिये पहुंचाई।

कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- गरीबों का दर्द नहीं समझती

गृहमंत्री ने कार्यक्रम में कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि वह गरीबों का दर्द नहीं समझती। कांग्रेस सरकार में लोगों के कल्याण के लिए चलाई जा रही योजनाएं बंद कर दी गई थीं। पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ बड़े आदमी हैं मुंह में सोने का चम्मच लेकर पैदा हुए थे, वे क्या गरीबों का दर्द जानें। संबल योजना गरीब का बल है। जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा कि समाज का विकास तभी संभव है जब गरीब का भी विकास हो। संकट के समय में परिवार के किसी सदस्य की मौत होने पर संबल योजना के जरिये उसे बल मिलेगा। यह विश्वास का प्रतीक है

भोपाल पहुंचकर पलटे – मेरी नाक में पॉलिपस है

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा के शाम को उनके भोपाल पहुंचते ही एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें वे सफाई देते नजर आए कि उन्हें नाक में पॉलिपस (टिशु ग्रोथ) है। इसकी वजह से ज्यादा देर मास्क नहीं लगा पाता हूं, लेकिन उसके बाद जहां आवश्यकता होती है, लगाता हूं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy