Cover

अतिवर्षा एवं बाढ़ की स्थिति से निपटने हेतु सभी संबंधित विभाग पूर्व तैयारियो रखें- कलेक्टर

 

आगर-मालवा, कलेक्टर अवधेश शर्मा ने निर्देश दिए कि अतिवर्षा एवं बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए सभी संबंधित विभाग पूर्व तैयारियां रखें। होमगार्ड विभाग गोताखोरों को प्रशिक्षित करें तथा संबंधित थानों पर भी उनकी जानकारी सूची में उपलब्ध कराएं। पूर्व वर्षाें में जिन क्षेत्रों में अतिवर्षा से बाढ़ की स्थिति निर्मित हुई है, वहां पहले से ही पुख्ता इंतजाम किए जाए। कलेक्टर सोमवार को अतिवर्षा एवं बाढ़ की स्थिति से निपटने की पूर्व तैयारियों को लेकर बैठक ले रहे थे। कलेक्टर ने होमगार्ड डिपार्टमेंट को बाढ़ के दौरान राहत उपकरण दुरूस्त रखने तथा जरूरी मोबाईल नम्बर संकलित करने एवं बाढ़ संभावित चिन्हीत क्षेत्रों में सूचनाओं के आदान-प्रदान हेतु नम्बरों की सूची चस्पा करवाने के निर्देश संबंधित को दिए। कलेक्टर ने कहा कि वर्षा़ऋतु के मौसम में अतिवृष्टि एवं बाढ़ के हालात से निपटने कि सभी संबंधित विभाग आपसी समन्वय के साथ सजग रहते हुए कार्य करें। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।
बैठक में सीईओ जिला पंचायत अंजली जोसेफ, एडिशनल एसपी कमल मौर्य, संयुक्त कलेक्टर अवधेश कुमार शर्मा, एसडीएम सुसनेर मनीष जैन, डिप्टी कलेक्टर कल्याणी पांडेय, जिला होमगार्ड सेनानी, सीएमओ आगर सीएस जाट, सहित अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।
कलेक्टर ने लोक निर्माण विभाग एवं पुलिस विभाग को नदी, नालों की पुल-पुलियाओं पर बारिश के दौरान बैरिकैटिंग एवं चैकियों की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि जिले में निर्मित तालाब, डेम एवं बांध आदि मे अत्यधिक जलभराव होने पर पानी छोडने की स्थिति में एक साथ पानी न छोड़ा जाए, पहले निचली बसाहटों को तत्काल सूचित करे, उन्हें रेस्क्यू कर सुरक्षित स्थान पर ले जाने के बाद, धीरे-धीरे पानी छोड़ा जाए। इसके लिए पहले से ही एक अच्छा रेसक्यू प्लान तैयार रखें। एसडीएम अपने क्षेत्रों में ऐसे स्थानों का चिन्हित कर स्थानीय स्तर पर लोगों को जागरूक करें तथा स्थानीय लोगों में कुछेक के मोबाईल नम्बर भी प्राप्त करें।
कलेक्टर ने निर्देश दिए कि नगरीय क्षेत्रों में खतरनाक स्थिति वाले भवनों का चिन्हांकन, उन्हें शीघ्र तोड़ने की कार्यवाही की जाए। तालाब, डेम, बांध की दीवारों की चैकिंग की जाए, खराब स्थिति होने पर उनकी तत्काल मरम्मत करवाएं। नगरीय निकाय में जलभराव वाले क्षेत्रों में नाले-नालियों की सफाई करवाएं। बारिश के दौरान किसी क्षेत्र में अत्यधिक जलभराव होने पर पानी निकासी की तत्काल व्यवस्था सुनिश्चित करवाई जाए। कलेक्टर ने खाद्य आपूर्ति अधिकारी को वर्षा के दौरान आवश्यक खाद्य सामग्री एवं सीएमएचओं को आवश्यक दवाईयां की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारी को लूज कनेक्शन, विद्युत फाल्ट आदि की समस्याओं का तत्परता से निराकरण करने के निर्देश दिए गए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy