Cover

हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मिलने जा रहे राहुल गांधी गिरफ्तार

लखनऊ: हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मिलने जा रहे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी आैर प्रियंका गांधी को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले यूपी पुलिस ने उनके साथ धक्का-मुक्की की थी। पुलिस की धक्का-मुक्की से राहुल गांधी संभल नहीं पाए और वह गिर गए। इस दौरान राहुल गांधी ने कहा कि मैं सिर्फ पीड़ित परिवार से मिलना चाहता हूं। ये लोग मुझे जाने से रोक नहीं पाएंगे। पुलिस ने हमें धक्के मारकर गिराया है।

-धक्का देने के बाद यूपी पुलिस ने राहुल गांधी को गिरफ्तार किया।
-अहंकारी सरकार की लाठियां हमें रोक नहीं सकती: प्रियंका
-बर्बर ढंग से लाठियां चलाई गईं।
-राहुल गांधी के हाथ में चोट लगी है: अजय लल्लू
-राहुल-प्रियंका को पुलिस गिरफ्तार कर सकती है: सूत्र
-एडिशनल एसीपी रणविजय सिंह ने कहा-राहुल गांधी को यहां से आगे नहीं जाने देंगे
-राहुल गांधी जानबूझकर गिरे: मोहसिन रजा (यूपी कैबिनेट मंत्री)
अकेले जाना चाहता हूं तो धारा 144 का उल्लंघन कैसे।
-राहुल गांधी ने पूछा-हमने कौन सा कानून तोड़ा।
-कभी कभी एेसा हाे जाता है काेई बड़ी बात नहींः राहुल गांधी

PunjabKesari

इतना मत डरो, मुख्यमंत्री महोदय-ऱाहुल गांधी
राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, दुख की घड़ी में अपनों को अकेला नहीं छोड़ा जाता। उप्र में जंगलराज का ये आलम है कि शोक में डूबे एक परिवार से मिलना भी सरकार को डरा देता है। इतना मत डरो, मुख्यमंत्री महोदय!”

उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है: प्रियंका 
श्रीमती वाड्रा ने पत्रकारों से कहा कि उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। लड़कियों और महिलाओं पर अत्याचार हो रहा है लेकिन संवेदनहीन योगी सरकार आरोपियों के खिलाफ कोई कारर्वाई नहीं कर रही है। इससे पहले श्रीमती वाड्रा ने पीड़िता के पिता के बयान से सबंधित वीडियो के साथ ट्वीट किया ‘‘ हाथरस की बेटी के पिता का बयान सुनिए। उन्हें जबरदस्ती ले जाया गया। सीएम से वीसी के नाम पर बस दबाव डाला गया। वो जांच की कारर्वाई से संतुष्ट नहीं हैं। अभी पूरे परिवार को नजरबंद रखा है। बात करने पर मना है। क्या धमकाकर उन्हें चुप कराना चाहती है सरकार। अन्याय पर अन्याय हो रहा है।”

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा ‘‘हाथरस जैसी वीभत्स घटना बलरामपुर में घटी। लड़की का बलात्कार कर पैर और कमर तोड़ दी गई। आजमगढ़, बागपत, बुलंदशहर में बच्चियों से दरिंदगी हुई। यूपी में फैले जंगलराज की हद नहीं। माकेर्िंटग, भाषणों से कानून व्यवस्था नहीं चलती। ये मुख्यमंत्री की जवाबदेही का वक्त है। जनता को जवाब चाहिए।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy