Cover

जिलेभर में झोलाछाप डॉक्टरों का फैला साम्राज्य , बिना डिग्री के मरीजो की जान के साथ कर रहे है खिलवाड़

  • आगर मालवा । आगर जिले में झोलाछाप डॉक्टरों का साम्राज्य इन दिनों अपने आसमान पर है विभाग की लापरवाही के कारण जिले के अलग अलग कस्बे में फर्जी डिग्री लगाकर ऐसे डॉ मरीजों का कोरोना जैसी बीमारी का इलाज करने में भी परेज नही कर रहे है । आलम यह है कि इन्होंने पूरे जिले में अपने साम्रज्य को मजूबत कर लिया है कई तहसीलों व बड़े कस्बो में ऐसे डाक्टर मरीजो की गंभीर बीमारी के साथ खिलवाड़ कर उन्हें मोत के मुह में ढकेल रंहे है

कुछ सर्जन तो , कुछ हार्ट स्पेशलिस्ट बने

पूरे जिले में कुछ बंगाली झोलाछाप डॉक्टर तो हार्ट ,किड़नी, व शिशु रोग स्पेशलिस्ट बनकर मरीजो का इलाज कर रहे है ऐसे में विशषज्ञों की तो ये डॉक्टर कई जगह पर छोटे मोटे ऑपरेशन कर मरीजो को जान के साथ खिलवाड़ कर रहे है ऐसे में कई बार ऑपरेशन बिगड़ जाने के स्थति में मरीजो की जान पर तक बन आई है साथ ही कुछ जगह तो ऐसे डॉक्टर बच्चो के स्पेशलिस्ट व हार्ट स्पेशलिस्ट बनकर मरीजो को मौत के मुह मे झोंकने का काम कर रहे है

जिले में 300 के करीब झोलाछाप

आगर जिले में झोलाछाप डॉक्टरों के साम्रज्य का अंदाज इस प्रकार लगाया जा सकता है कि पूरे जिले में करीब 300 के लगभग झोलाछाप डॉक्टर अपना क्लीनिक संचालित कर मरीजो की जान के साथ खिलवाड़ कर रहे है वंही जिले के मुख्यालय ,तनोड़िया ,पिपालोंन , बडौद ,सूसनेर , सोयत ,नलखेड़ा ,बड़ागांव मोड़ी समेत अन्य कस्बो में अपना साम्रज्य जमाये बैठे है

विभाग की अनदेखी के कारण कर रहे बेखोफ धंधा

 

ऐसा नही है कि इस मामले का संज्ञान संबंधित अधिकारियों व विभाग को नही है ये सब जानकारी होने के बाउजूद ऐसे झोलाछाप डॉक्टर धड़ल्ले से जेनरिक ,कॉमन दवाइयों के साथ मरीजो की जान के साथ खिलवाड़ कर रहे है । इस मामले में कुछ दिन पूर्व विभाग द्वारा कुछ प्राइवेट क्लिनिकों पर कार्यवाही भी की गई थी लेकिन विभाग ने इस ओर कुछ जगह कार्यवाही कर मामले को इतिश्री कर दिया ।

इन धाराओ के तहत हो सकता है ऐसे डॉक्टरों पर केस दर्ज

 

पूरे जिले में जिस प्रकार से इन डॉक्टरो ने अपना साम्राज्य स्थापित किया उसकी एक पहली वजह है इनका शासन के प्रति बेखोफ होजाना ऐसे में यदि सम्बंधित एक्सपर्ट की माने तो इन लोगो पर जबतक कठोर कार्यवाही नही की जाई तबतक ये मरीजो की जान के साथ खिलवाड़ करते जायेगें । ओर इस पूरे मामले पर सरकारों ने इसके लिए कानून भी बना रखा है आयुर्विज्ञान परिषद अधिनियम की धारा 24 व मेडिको लीगल एक्ट धारा 15 , के तहत ऐसे क्लीनकी संचालकों पर पुलिस व विभाग कार्यवाही भी कर सकती है लेकिन ऐसी कार्यवाही नही होने के कारण ये डॉक्टर मरीजो को जान के साथ खिलवाड़ करने पर रत्तीभर भी फिक्र नही कर रहे है

 

कार्यवाही जारी है पूरे जिले में करंगे । सीएमएचओ डॉ एसएस मालवीय ।

इस मामले में टीम गठित है अभी शहरों में कार्यवाही की गई है अब पूरे जिलेभर में कार्यवाही की जाएगी ।

 

ब्यूरो न्यूज़ आगर लाइव

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy